Uncategorized

कब्ज Constipation

loading...

कब्ज: लक्षण, कारण और उपचार

कब्ज को इंग्लिश में कॉन्स्टिपेशन कहते है। कब्ज का मतलब होता है बहुत कड़ा मल या मल त्याग करने में परशानी होना ये ख़राब पाचन तंत्र क्रिया के कारण होता है,इसमें खाया हुआ भोजन सही से नहीं पचता जिसमे रेशे दार चीजे या पानी की कमी होती है। आंतो में भोजन धीरे-धीरे सरकता है और मल त्याग करने में काफी परेशानी होती है मल त्याग करने में काफी ताकत लगाना पड़ता है। मल त्याग करने का समय हर व्यक्ति में अलग-अलग होती है, इससे अगर व्यक्ति समय पर शौच नहीं जा पाता उसकी वजह से भी कब्ज हो सकता है हफ्ते में कम से कम तीन बार शौच जाना अतिआवश्यक है।

kabj-ko-kaise-door-kare

image source google

Kabj ke lakshan कब्ज के लक्षण

  • कब्ज हो जाने पर मल कड़ा हो जाता है और मलत्याग सही ढंग से नहीं हो पाता है।
  • ज्यादा समय तक शौच न जाने कारण जीभ सफ़ेद पड़ जाते है और मुंह बदबू आने लगती है।
  • कब्ज रोगी को ज्यादा भूख नहीं लगती है और मतली के साथ कभी-कभी उलटी भी होने लगती है।
  • इससे पेट में सूजन और दर्द बना रहता है जिससे व्यक्ति असहज महसूस करता है।
  • रोगी को ऐसा महसूस होता है कि आतड़ियाँ पूरी तरह से खाली नहीं हुई हो और पेट में ऐठन या मरोड़ हो रहा है।

Kabj ke karan कब्ज के कारण

  • जब आपको मल त्याग करने की इच्छा हो तो शौच न जाना।
  • ऐसे आहार जिसमे चर्बी और शक्कर ज्यादा हो और रेशे कम हो।
  • पानी कम पीने के कारण भी कब्ज होता है।
  • तेल मसाले आदि चीजें ज्यादा खाने से कब्ज की समस्या बन जाती है।
  • हफ्ते में एक या दो बार शौच के लिए जाना।

Kabj ke gharelu upchar कब्ज के घरेलु उपचार

  • कब्ज को दूर करने का सबसे उपयोगी तरीका है पानी खूब पिए।
  • तरल पदार्थ ज्यादा मात्रा में ले।
  • खाने में फाइबर युक्त चीजे ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल करे।
  • ताजे फल, रेशेदार सब्जियां, सेब का रस लेने से कॉन्स्टिपेशन दूर होता है रेशेदार सब्जियां लेने से शरीर से मल निकालने में मदद करता है।
  • अगर ज्यादा समय तक शौच नहीं गए तो इसबगोल की भूसी शाम को भोजन करने के बाद सोते समय दो चम्मच पानी के साथ लेने से सुबह के समय पेट साफ होकर कब्ज से राहत मिलती है।
  • दिन में कम से कम दो लीटर पानी हल्का गर्म पीने से कब्ज में काफी राहत मिलती है।
  • पैदल चलने से कब्ज में काफी लाभदायक है।
  • अगर आपके पेट में कब्ज है तो अंडे, चॉकलेट आदि कम खानी चाहिए क्युकी इससे कब्ज बढ़ सकती है।
  • ज्यादा कब्ज रहने से अजवाइन और काला नमक बराबर मात्रा में लेने से कब्ज में काफी आराम मिलता है।
  • कब्ज में भोजन के साथ मूली खाना चाहिए इससे कब्ज में राहत मिलती है।
  • मूली का साग बना कर खाने से भी लाभ मिलता है।
  • ज्यादा तेल मसालेदार सब्जियां नहीं खानी चाहिए।

और भी पढ़े

पेट के गैस, एसिडिटी से छुटकारा
nausea | जी मिचलाना | मतली | उबकाई

Sending
User Review
0 (0 votes)
loading...

Add Comment

Leave a Comment