Uncategorized

खून की कमी, एनीमिया

loading...

खून की कमी एनीमिया

खून हमारे शरीर में दो प्रकार के होते है। लाल रक्त कोशिका और सफ़ेद रक्त कोशिका। अधिक खून की कमी से एनीमिया नामक बीमारी होती है। लाल रक्त कोशिका हमारे शरीर के अंगो को ऑक्सीजन प्रवाह करता है और सफ़ेद रक्त कोशिका हमारे शरीर में होने वाले संक्रमण से लड़ता है। लाल रक्त कोशिका में हीमोग्लोबिन रहता है हीमोग्लोबिन के कमी को खून के कमी(एनीमिया) कहते है।
एनिमिया लाल रक्त कोशिकाओं की कमी के कारण होता है। इससे शरीर के ऊतकों और अंगों को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पाता है। पुरुषों के खून में सामान्य हीमोग्लोबिन 13-17% और महिलाओ में 12-16% होना चाहिए अगर आप में इस % की मात्रा से खून कम है तो खून की कमी है।

khoon-ki-kami-anaemia

image source google

एनीमिया के प्रकार

  1. आयरन-डेफिशियेंसी एनीमिया
  2. मेगालोब्लास्टिक एनीमिया
  3. हेमोलाइटिक एनीमिया
  4. सिकल सेल एनीमिया
  5. थैलासीमिया
  6. अप्लास्टिक एनीमिया

एनीमिया के लक्षण

  • थकान या सुस्ती महसूस होना,
  • व्यायाम करते समय सांस लेने में कठिनाई महसूस करना,
  • चक्कर आना,
  • ह्रदय की धड़कन तेज चलना,
  • एनजाइना, (व्यायाम करने पर छाती जकड़न में जकड़न होना)
  • पैरों में दर्द होना,
  • शरीर का रंग पीला पड़ जाना,
  • पेट में दर्द होना,
  • त्वचा के नीचे, मसूड़ों, नाक, योनि या गुदा आदि से रक्तस्राव होना,
  • शौच करते समय मल का रंग नीला होना या मल में खून आना।

खून की कमी, एनीमिया होने के कारण

ये चार प्रमुख कारण है:-

  1. रक्त में कमी के कारण एनीमिया।
  2. एनीमिया कम या दोषपूर्ण लाल रक्त कोशिका उत्पादन के कारण होता है।
  3. लाल रक्त कोशिकाओं के विनाश के कारण एनीमिया।
  4. रक्त में कमी के कारण एनीमिया।

अन्य कारण है:-

  • लाल रक्त कोशिकाओं में रक्त स्त्राव के कारण कमी आ जाती है।
  • महिलाओं में माहवारी और प्रसव के कारण, खासकर अगर मासिक धर्म में ज्यादा खून बहना या गर्भधारण हो।
  • चोट लगने से बाहरी या भीतरी खून बहना।
  • पीलिया रोग हो जाने से।
  • शरीर में संक्रमण हो जाने से।
  • भोजन में आवश्यक पोषक तत्वों के कमी से हीमोग्लोबिन में कमी आ जाती है।
  • भोजन में आयरन के कमी से एनीमिया हो सकता है।

खून की कमी को दूर करने के उपाय

  • खून के कमी होने का प्रमुख कारण है हीमोग्लोबिन का लाल रक्त कोशिका में कम होना खून बढ़ाने का सबसे जरुरी है आयरन के मात्रा में वृद्धि करना इसलिए आयरन युक्त भोजन करना जैसे दाल, खजूर, लाल मीट, झींगा आदि।
  • अनार खून बढ़ाने का सबसे सरल उपाय है प्रतिदिन एक गिलास अनार का जूस पीने से हीमोग्लोबिन में वृद्धि होता है।
  • विटामिन-सी की कमी होना भी हीमोग्लोबिन में कमी होने का कारण है इसलिए विटामिन-सी युक्त भोजन और फल-फ्रूट्स का सेवन करना चाहिए जैसे संतरा, निम्बू , अंगूर, जामुन आदि।
  • हरे पत्तेदार सब्जिया जिसमे मेथी और पालक प्रमुख है इसमें आयरन भरपूर मात्रा में है खाने से खून की कमी दूर होती है।
  • दस बादाम पांच घंटे तक पानी में भिगो कर रख दे उसके बाद उसको निकालकर उसके छिलके उतारकर उसको पीस कर पेस्ट बनाकर खा ले प्रतिदिन ऐसा खाने से खून के मात्रा में तेजी से वृद्धि होती है।
  • आयरन के गोलिया सरकारी अस्पताल में फ्री में दी जाती है जो हीमोग्लोबिन की कमी को दूर करती है।
  • अंडे, मछली, कलेजी खाने से आयरन में वृद्धि होती है।
  • चुकंदर में आयरन की मात्रा में अधिक मात्रा में पायी जाती है एनीमिया से शिकार महिलाओ या पुरुषो में चुकंदर रामबाण इलाज है और इसके पत्ते में भी आयरन बहुत होता है जो की खून को कमी दूर करने लाभदायक है।
  • खून के कमी को दूर करने के लिए तुलसी के पत्ते काफी लाभदायक है जो की लाल रक्त कोशिका में वृद्धि करती है।
  • गुड़ में अधिक मात्रा में खनिज लवण पाए जाते है जो हीमोग्लोबिन बढ़ाते है।

और भी पढ़े…..

शरीर की कमजोरी दूर करने के उपाय
मोच के घरेलु उपचार

Sending
User Review
0 (0 votes)
loading...

Add Comment

Leave a Comment