Uncategorized

तनाव दूर करने के उपाय

loading...

तनाव

मानव जाति के लिए तनाव कोई नई बात नहीं है, मनुष्य द्वारा किये गए कार्यो में असफलताओं और पश्चाताप ही मनुष्य को तनाव की तरफ खींच लाता है। मानव अपने जीवन में किये गए लाखो प्रयासों व गलतियों के बाद इस अवस्था में आता है तनाव हमारे कार्यों के रास्ते में अवरोध पैदा करते है जो हमारे कार्यो की सन्तुष्टियों में हस्तक्षेप करते है और हमारे लक्ष्यों की ओर हमारे प्रयासों को कठिन करते है।ये सब हमेशा देरी, असफलताओं, हानियों, फेल होना, बिमारियों, संघर्षों और तनावों आदि का सामना करते है। ये सब घटनाएं हमारे जीवन पर प्रभाव डालती है जो अत्यधिक तनावपूर्ण और हानिकारक हो सकता है।

जब हमारा शरीर अनुचित स्थितियों में तनाव की स्थिति में जाता है। जब रक्त प्रवाह केवल सबसे महत्वपूर्ण मांसपेशियों को लड़ने या भागने के लिए जरूरी होता है, तो मस्तिष्क की क्रिया कम हो जाती है इससे ‘सीधा सोचने’ की अक्षमता हो सकती है; एक राज्य जो हमारे काम और घर दोनों में एक बड़ी बाधा है यदि हमें लंबे समय तक तनाव के एक राज्य में रखा जाता है, तो यह हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

तनाव दोनों बाहरी और आंतरिक कारकों से संबंधित होता है बाहरी कारकों में आपका शारीरिक वातावरण, आपकी नौकरी, दूसरों के साथ संबंध, आपके घर, और सभी परिस्थितियों, चुनौतियों, कठिनाइयों, और अपेक्षाओं का सामना आप दैनिक आधार पर करते हैं। आंतरिक कारक आपके शरीर की प्रतिक्रिया का जवाब देते हैं, और इसके साथ सौदा करते हैं, बाह्य तनाव-उत्प्रेरण कारक तनाव को संभालने की आपकी क्षमता को प्रभावित करने वाले आंतरिक कारकों में आपके पोषण संबंधी स्थिति, समग्र स्वास्थ्य और फिटनेस के स्तर, भावनात्मक कल्याण, आराम तकनीक या अन्य रणनीतियों के माध्यम से तनाव को नियंत्रित करने की आपकी क्षमता, और आपको सोने की मात्रा और आराम मिलता है।

इसलिए तनाव को दूर करने के लिए बाहरी कारकों को बदलने के लिए युक्तियां सीखना शामिल हो सकता है जो आपको या आंतरिक कारकों का सामना कर सकते हैं, जो आपके तरीके से निपटने की आपकी क्षमता को मजबूत करते हैं।

तनाव दूर करने के उपाय

  • तनाव दूर करने के बहुत से उपाय है जैसे अपने जीवन शैली में परिवर्तन, शिथिलीकरण (ध्यान लगाना, योग या आसन, शारीरिक व्यायाम करना, मनमोहक संगीत सुनना, मालिश करना आदि) हसंना, हमेशा मनोरंजन करने वाले व्यक्तियों के साथ रहना जो हमारे लिए तनाव में सकारात्मक भूमिका निभाता है।
  • अपनी भावनाओं को ध्यान में रखें, और उन्हें नाम दें – उदाहरण के लिए, “मैं बहुत गुस्सा हूँ!” और कहें या सोचें कि आपको ऐसा क्यों लगता है। फिर, शांत हो जाओ और परेशान भावनाओं से बचें और उन्हें व्यक्त करने का एक तरीका ढूंढें। संगीत सुनना, मनोरंजक कहानिया लिखना, पालतू जानवर के साथ खेलते रहना, अपने सोचने की क्षमता में बदलाव लाना जिससे आप अपने सोचने के रास्ते को नया मोड़ दे सको
  • तनाव उत्पन्न करने वाले कारको के प्रत्यक्ष ज्ञान में परिवर्तन करके ज्ञान सम्बन्धी युक्तियों का प्रयोग करना इसे तनाव को खतरे के रूप में नहीं बल्कि चुनौती के रूप में देखना चाहिए जिससे तनाव के प्रति सकारात्मक सोच उत्पन्न होती है।
  • वह व्यक्ति जो तनाव में है उसे अपना आत्मविश्वास बनाये रखना चाहिए जिससे तनाव उस पर हावी न हो और उसके मन नकारात्मक विचार न आये इससे तनाव से दूर होने में हमें मदद मिलती है।
  • तनाव को दूर रखने के लिए शौक रखना जरुरी होता है जैसे टी वी देखना, संगीत सुनना, गार्डनिंग आदि जो तनाव को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।
  • अपने परिवार के साथ समय बिताना और उनके साथ मनोरंजन भरी बाते करना तनावपूर्ण भरा जीवन में लाभ मिलता है।
  • तनाव में हमेशा शांत और विश्वस्त रहना चाहिए जिससे तनाव को कम करने में सहायता मिलती है।
  • तनावयुक्त विचारो से दूर रहे जो हमारे मन में नकारात्मक सोच डाल देते है वास्तव में अधिकतर बाते हमारे जीवन में घटती नहीं फिर में हम उन बातो को सोच कर चिंतित रहते है और अपनी ऊर्जा व्यर्थ ही खर्च करते रहते है।
  • तनाव में व्यक्ति का मस्तिष्क सही ढंग से कार्य नहीं करता जिससे व्यक्ति हमेशा कार्य करने में कम रूचि लेने लगता है तनाव दूर करने के लिए अच्छा तरीका योग है। योग सिखाता है कि आपकी श्वास को नियंत्रित करने से आप अपने शरीर को नियंत्रित कर सकते हैं, और अपने दिमाग को शांत कर सकते हैं।

और भी पढ़े

संतुलित आहार

Sending
User Review
0 (0 votes)
loading...

Add Comment

Leave a Comment