BREASTFEEDING

महिलाओं की छाती का जमा दूध निकलने का घरेलू इलाज और उपाय

छाती का जमा दूध
loading...

महिलाओं की छाती का जमा दूध निकलने का घरेलू उपचार

जमा दूध निकलने का घरेलू उपचार
खड़िया मिट्टीखड़िया मिट्टी 10 ग्राम, कपूर 1.5 ग्राम को पानी में पीसकर सीने पर मालिश करने से महिलाओं की छाती में जमा हुआ दूध निकल जाता है।
देशी मोमदेशी मोम को गर्म करके महिला की छाती पर मालिश करने से छाती का जमा दूध निकल जाता है।
तिलकाले तिलों को दूध या पानी में पीसकर हल्का गर्म करें इसे महिलाओं की छाती पर लेप करने से छाती (सीने) का जमा हुआ दूध निकल जाता है।
काहू के बीजकाहू के बीज सिरके में पीसकर स्त्रियों के सीने पर लेप करने से सीने का जमा हुआ दूध निकल जाता है।
जवारिसजवारिस कमूनी 6 ग्राम की मात्रा में सोते समय पानी के साथ सेवन करने से छाती का जमा हुआ दूध निकल जाता है।
अनारअनार का छिलका और माजूफल 10-10 ग्राम की मात्रा में लेकर उसे बारीक पीसकर लेप बना लें। इसे महिलाओं की छाती में लेप करने से छाती सख्त हो जाती है।
सतावरसतावर, सौंफ, बिदारीकन्द 50-50 ग्राम लेकर बारीक पीसकर रख लें, फिर 5 ग्राम चूर्ण को दूध या पानी से स्त्रियों को सेवन करायें। इससे स्त्रियों की छाती का जमा हुआ दूध उतर जाता है।
मेथीमेथी, अलसी 10-10 ग्राम की मात्रा में सिरके में पीसकर छाती पर लेप करने से दूध उतर जाता है।
जैतूनजच्चा (महिला) की छाती पर जैतून का तेलमालिश करने से सीने में जमा हुआ दूध उतर जाता है।
बिदारीकंदबिदारीकंद 100 ग्राम की मात्रा में कूट-पीसकर इसमें खांड 100 ग्राम की मात्रा में मिला दें। इसे 5-5 ग्राम की मात्रा में दूध के साथ सुबह.शाम सेवन करना चाहिए।

गर्भावस्था के दौरान पौष्टिक भोजन में गर्भवती महिला को क्या खाना चाहिए 

महिला के दूध, गर्भावस्था के बिना दूध का निकलना, प्रेगनेंसी से पहले दूध आना, डिलीवरी से पहले दूध आना, ब्रेस्ट से मिल्क कब आता है, दूध स्राव, माँ का दूध बढ़ाने के तरीके, महिला का दूध पीना

Sending
User Review
0 (0 votes)
loading...

Leave a Comment