Uncategorized

विभिन्न रोंगो में अनार के फायदे

loading...

anar ke fayde – अनार अमृत समान है  और ईरान मे इसे जन्नत का फल कहा गया है| यह स्वस्थ के लिए सेब, अंगूर, नारंगी या अन्य फल के मुक़ाबले अत्यंत फायदेमंद है| हर रोज जो अनार का सेवन करे तो जीवन भर तंदूरस्त रहेंगे| हमारे देश में अनार ( anar )का पेड़ सभी जगह उगाया जाता है। अफगानिस्तान और भारत के उत्तरी भाग में पैदा होने वाले अनार बहुत रसीले और अच्छी किस्म के होते हैं। अनार के पेड़ कई शाखाओं से युक्त लगभग 6 मीटर ऊंचे होते हैं। इसकी छाल चिकनी, पतली, पीली या गहरे भूरे रंग की होती है। इसके पत्ते कुछ लंबे व कम चौड़े होते हैं तथा फूल नारंगी व लाल रंग के, कभी-कभी पीले 5-7 पंखुड़ियों से युक्त एकल या 3-4 के गुच्छों में होते हैं। अनार के फल गोलाकार, लगभग 2 इंच व्यास का होता है। इसके फल का छिलका हटाने के बाद सफेद, लाल या गुलाबी रंग के रसीले दाने होते हैं। रस की दृष्टि से यह फल मीठा, खट्टा-मीठा और खट्टा तीन प्रकार का होता है। अनार का केवल फल ही नहीं बल्कि इसका पेड़ भी औषधीय गुणों से भरपूर होता है। फल की अपेक्षा कली व छिलके में अधिक गुण पाये जाते हैं।

anar-ke-fayde-hindi-me

image source google

अनार में पाये जाने वाले तत्व 

चलिए हम आपको यह बता दे की अनार में कौन कौन से तत्व पाये जाते है । इसमे कैल्सियम,फास्फोरस,सोडियम ,पोटैशियम,ताँबा, विटामिन बी,विटामिन C,मैग्निशियम, लोहा जैसे अन्य भी तत्व पाये जाते है।जो की ह्रदय ,अतिसार,उच्च रक्त चाप,कमजोरी,बल वीर्यवर्धक,अल्प रक्त जैसे समस्याओ से छुटकारा दिलाने के लिए आवश्यक होते है।

पढ़े……पेट के गैस, एसिडिटी से छुटकारा

अनार का सेवन कैसे करे

अनार अगर रोजाना मिले तो रोजाना एक अनार जरूर खाये नही तो सप्ताह में दो दिन तो जरूर ले क्योकि यह शरीर में पनंपने वाली बीमारी को बढ़ने नही देता और आप स्वस्थ रहते है।
अगर आप गांव में रहते है या फिर फैलाव वाली जगह जहाँ पेड़ लग सके तो अनार का पेड़ ही लगा ले क्योकि अनार का हल अंश हमारे लिए किसी न किसी तरह लाभदायक होता ही है।

अनार का जूस या अनार के दाने 

बहुत से लोग इस भ्रम में रहते है कि अनार का जूस लाभदायक है या इसके दाने । तो मैं उनसे कहना चाहूँगा की वैसे तो दोनों में कोई अंतर नही है परन्तु अनार के दाने का सेवन ज्यादा लाभप्रद होगा क्योकि इसमे अनार के बीज भी पेट में जाते है जो पेट की समस्या से बचाते है । दूसरी यह भी वजह है की आज के समय में जूस मिलावट वाला भी हो सकता है।

पढ़े……उल्टी से बचने के घरेलु नुस्खे

अनार के अनगिनत फायदे ANAR KE ANGINAT FAYDE

अनार  एक ऐसा फल है जिसे रोगी को भी दिया जा सकता है । यह थकान और कमजोरी , चक्कर आना आदि को मिटाता है।

—  खून की कमी दूर करता है।

—  पाचन में सहायक होता है।

—  स्मरण शक्ति , दिमागी शक्ति व चुस्ती फुर्ती बढाता है।

—  जिन बच्चों का विकास सही ढंग से नहीं हो  रहा हो या कमजोर बने रहते हो उन्हें नियमित रूप से  Anar  खिलाने से फायदा होता है।

पढ़े……दस्त या डायरिया के लक्षण कारण और बचने के उपाय

—  यह दिल के रोगों में गुणकारी होता है।

—  मुँह और गले के रोगों में भी यह बहुत हितकारी होता है।

—  डायबिटीज से होने वाले नुकसान से बचाता है विशेषकर हृदय को।

—  यह नसों को लचीला बनाये रखता है तथा कोलेस्ट्रॉल जमने से रोकता है।

—  माहवारी के समय होने वाले तनाव और डिप्रेशन को कम करता है। मेनोपॉज़ के बाद होने वाले डिप्रेशन में भी अनार के नियमित सेवन से लाभ होता है।

—  अनार  रक्त वर्धक होने के साथ रक्त का संचार भी बढाता है।

—  यह आमाशय की जलन , पेशाब की जलन , जी घबराना  , खट्टी डकार , ज्यादा प्यास आदि परेशानियों में लाभदायक होता है।

—  तिल्ली और लीवर की कमजोरी , संग्रहणी , उलटी दस्त , आदि  Anar  खाने से ठीक हो जाते है।

—  अनार शरीर के अम्लीय तत्वों को निकालकर  स्किन में निखार पैदा करता है । स्किन को जवान और सुन्दर बनाने के लिए Anar का सेवन जरुर करना चाहिए। नियमित रूप से  Anar  खाने से स्किन में कभी भी झुर्रियां नहीं होती।

—  फल के साथ ही  Anar  के पत्ते और अनार का छिलका भी बहुत से घरेलु नुस्खे में काम आते है।

पढ़े……Kamar Dard kaise door kare कमर दर्द कैसे दूर करे

अनार के घरेलू नुस्खे – Anar Ke Gharelu Nuskhe

अनिद्रा  ( Neend Nahi Aana )

अनार के ताजे पत्ते लगभग एक कप दो गिलास पानी में उबालें। जब पानी आधा रह जाये तो छान लें। इसमें एक कप दूध स्वाद के अनुसार चीनी मिलाकर पीयें। शरीर और दिमाग की हर तरह की थकान मिट जाएगी और अच्छी नींद आएगी। अनिद्रा दूर होगी।

सौन्दर्य ( Beauty )

अनार के छिलकों को सुखाकर , बारीक पीस कर , गुलाब जल के साथ मिक्स करके उबटन की तरह लगाने से सुन्दरता निखर आती है। स्किन के सभी प्रकार के दाग धब्बे और झाईयां  ठीक हो जाते है।

पढ़े……सेब खाने के महत्वपूर्ण फायदे

दांतों के लिए ( Strong Teeth )

अनार के फूल छाया में सुखाकर बारीक पीस लें। इनसे सुबह शाम मंजन करने से मसूड़ो से खून निकलना ठीक हो जाते है और दांतों का हिलना भी ठीक हो जाता है। अनार के सूखे पत्तों का मंजन भी दांतों के लिए बहुत गुणकारी होता है।

Anar  के पिसे छिलके पानी में उबालकर इस पानी से कुल्ला करने से मुँह की बदबू , मुँह से पानी गिरना ठीक होता है और मुँह के छाले ठीक हो जाते है।

सिर का गंजापन ( Hair Loss )

अनार के ताजे पत्ते लगभग एक पाव पीस लें। इनको एक गिलास पानी में उबलने के लिए रखें। जैसे ही पानी उबलने लगे इसमें 100 ml सरसों का तेल ड़ाल दें। अब तब तक उबालें जब तक कि सारा पानी उड़ जाये और सिर्फ तेल बचे। ठंडा होने पर छान लें।

इस तेल की रात को रोज एक महीने तक मालिश करने से बाल झड़ने बंद होते है और गंजे सिर पर भी बाल उग आते है।

पढ़े……Haldi ke fayde aur nuksan हल्दी के फायदे और नुकसान

दस्त ( Loose Motion )

अनार को भून लें। इसके दानो का रस निकाल लें। इसमें शहद मिलाकर पीयें। इससे हर प्रकार के दस्त ठीक होते है। पेचिश और संग्रहणी के लिए दो चम्मच Anar  के सूखे छिलकों का पाउडर और दो लौंग पिसी हुई एक ग्लास पानी में तीन चार मिनट उबाल  लें। फिर छानकर पी लें। दिन में दो बार नियमित लेने से आराम मिलता है।

हाजमा ( Digestion )

खाना खाने की इच्छा नहीं होती , खाना पचता नहीं हो , भूख नहीं लगती हो तो ये चूर्ण घर पर बना कर रखें। बहुत स्वादिष्ट और लाभकारी होता है।

अनारदाना    –   100  ग्राम

काली मिर्च    –     25  ग्राम

कलौंजी        –      25  ग्राम

जीरा            –      25  ग्राम

सेंधा नमक   –      25  ग्राम

इन सबको मिलाकर पीस लें। खाना खाने के बाद  दो चम्मच  ये चूर्ण गरम पानी से लेने से

गैस पेटदर्द , हाजमे की व पेट की सभी प्रकार की तकलीफ दूर होती है।

ये भी पढ़े……

Sending
User Review
0 (0 votes)
loading...

Add Comment

Leave a Comment